कांग्रेस ने जारी किया मेनिफेस्टो; जाने क्या है इसमें

मेनिफेस्टो जारी करने के मौके पर कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी में बोला कि सरकार के आने के बाद देश की गरीब जनता के खाते में 72 हज़ार रूपये आएंगे। उन्होंने बोला, "गरीबी पर वार, पच्चहत्तर हज़ार।"

0
374
congress

चुनावी दंगल 11 अप्रैल, 2019 से शुरू होने वाला है, चुनावी बिगुल फूंका जा चुका है, सभी पार्टियां कमर कस के मैदान में कूदने को तैयार हैं। सब पार्टियां अपने-अपने वादों के पिटारे खोलने वाले हैं। इसी श्रंखला में कांग्रेस ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए अपना मेनिफेस्टो यानि की चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी, सोनिया गाँधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, प्रियंका गाँधी आदि अन्य बड़े नेताओं की मौजूदगी में कांग्रेस का मेनिफेस्टो घोषित हुआ। कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र को ‘कांग्रेस विल डिलीवर’ (हम निभाएंगे) नाम दिया है। 54 पेज के इस चुनावी घोषणा पत्र के द्वारा कांग्रेस ने बहुत सारे वादे देश की जनता के साथ किये हैं। कांग्रेस के मेनिफेस्टो का मुख्य एजेंडा काम, दाम, शान, सम्मान, सुशासन और स्वाभिमान है।

कांग्रेस के अनुसार इस घोषणा पत्र को तैयार करने के लिए 121 पब्लिक कंसल्टेशन्स और 53 क्लोज्ड कंसल्टेशन्स थे। कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो को लोगों की आशाओं को दर्शाता हुआ बताया है। देश के पूर्व फाइनेंस मिनिस्टर पी. चिदंबरम मेनिफेस्टो कमेटी के प्रमुख थे।

मेनिफेस्टो जारी करने के मौके पर कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी में बोला कि सरकार के आने के बाद देश की गरीब जनता के खाते में 72 हज़ार रूपये आएंगे। उन्होंने बोला, “गरीबी पर वार, पच्चहत्तर हज़ार।”

कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में बहुत सारे वादे किये हैं देश की जनता से तो चलिए एक नज़र घोषणा पत्र पर-

काम – रोजगार और विकास, घोषणा पत्र में कांग्रेस ने रोजगार पर बहुत ही ध्यान दिया है। केंद्र सरकार, पब्लिक सेक्टर व अन्य में खाली पड़े करीब 4 लाख पदों को मार्च 2020 तक भर दिया जायेगा। 10 लाख सेवा मित्रों की नियुक्ति, परीक्षा शुल्क से मुक्ति, शिक्षा और स्वास्थ्य क्षेत्रों का विस्तार, छोटे और मध्यम स्तर रोजगार उद्योग-धंधों का तेज़ गति से विस्तार आदि।

न्यूनतम आय योजना(NYAY), अपने 2004-2014 तक के कार्यकाल का उदाहरण ले कर कांग्रेस ने बताया है कि उस बीते दशक में कांग्रेस ने 14 करोड़ लोगों को गरीबी से उभरा है। तो अगर इस बार कांग्रेस आती है तो 2030 तक गरीबी को पूरी तरह से मिट सकती है। NYAY योजना का लाभ देश की आबादी का 20 प्रतिशत यानि कि करीब 5 करोड़ परिवार जो अत्यंत गरीब हैं, उनको मिलेगा। योजना के अनुसार प्रत्येक गरीब परिवार को प्रतिवर्ष 72,000/- रूपये दिए जायेंगे।

राष्ट्रीय सुरक्षा, कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में राष्ट्रीय सुरक्षा को भी अच्छा मुद्दा बनाया है। कांग्रेस देश की सुरक्षा के लिए रणनीतिक एवं कठोर कदम उठाएगी। देश की चरों तरफ से सुरक्षा के साथ ही साथ डाटा सुरक्षा, साइबर सुरक्षा, इकोनोमिकल सुरक्षा, संचार सुरक्षा आदि क्षेत्रों को भी सुरक्षित बनाएगी। रक्षा और सुरक्षा उपकारों के निर्माण के लिए घरेलू क्षमता विकसित करेगी।

स्वास्थ्य देखभाल, कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में स्वास्थय के लिए भी अच्छी योजना दी हैं। मेनिफेस्टो में बताया गया है कि पूर्ण स्वास्थ्य सुविधा हर नागरिक – बच्चे, वयस्क और वरिष्ठ नागरिक का अधिकार है। कांग्रेस सभी के लिए स्वास्थ्य का अधिकार कानून लागू करेगी। मुफ्त सार्वजानिक अस्पताल मॉडल को तेज़ी देगा। इंटरनेशनल ट्रेडिशन के अनुसार राष्ट्रीय टेलीमेडिसिन नीति तैयार करेगी, आयुष को बढ़ावा मिलेगा और आशा कार्यक्रम का विस्तार होगा।

सरकार, पारदर्शिता और जवाबदेही, कांग्रेस सत्ता में आने के बाद पूरी तरह से पारदर्शिता लाएगी। सरकार साल के अंत में अपने द्वारा किये गए कार्य की पूरी जानकारी जनता को देगी कि क्या-क्या पूरा हो गया है और क्या रह गया है? भेदभाव विरोधी कानून बनाएगी। शिकायक निवारण विधेयक-2011 को पारित करेगी।

महिला सशक्तिकरण और लिंगसमवेदीकरण, मेनिफेस्टो के अनुसार कांग्रेस 17 वीं लोकसभा के पहले सत्र में ही संविधान संशोधन विधेयक पास कराकर, लोकसभा और राज्य सभा में महिलाओं के लिए 33% आरक्षण लाएगी। सभी पुरुषों और महिलाओं के वेतन में समानता लाएगी रात में महिला श्रमिकों के लिए रैन बसेरों का निर्माण कराया जायेगा, स्वच्छ और सुरक्षित शौचालयों का निर्माण किया जायेगा। सार्वजनिक स्थलों पर सेनेटरी नैपकिन वेंडिन मशीन लगाई जाएँगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here