सीजेआई पर आरोप लगाने वाली महिला ने कहा- मुझे जांच रिपोर्ट की कॉपी दी जाए

0
160





नई दिल्ली. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर यौन शोषण के आरोप लगाने वाली महिला ने मंगलवार को आंतरिक जांच समिति से जांच रिपोर्ट की मांग की। जस्टिस बोबडे की अध्यक्षता वाली जांच समिति ने सोमवार को सीजेआई पर लगे आरोपों को खारिज कर दिया था। समिति ने कहा था कि इन आरोपों में कोई आधार नहीं है। जांच समिति ने अपनी रिपोर्ट को सार्वजनिक ना किए जाने का भी निर्देश दिया।

जस्टिस बोबडे, जस्टिस इंदु मल्होत्रा और जस्टिस इंदिरा बनर्जी की आंतरिक जांच समिति ने 14 दिन में अपनी जांच पूरी की। 3 दिन तक जांच में हिस्सा लेने के बाद महिला ने आगे की जांच में शामिल होने से इनकार कर दिया था।

जांच समिति की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता नहीं- महिला

महिला ने जस्टिस बोबडे को खत लिखकर कहा- जांच समिति की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता नहीं है। इसके अलावा मुझे ऑर्डर की कॉपी ना दिया जाना प्राकृतिक न्याय के सिद्धांत का उल्लंघन है। यह इंसाफ का मजाक उड़ाना है। पहली ही सुनवाई में मुझे कोई स्पष्टता नहीं दिखाई दी थी। इन-हाउस कार्यवाही के नियमों का इस्तेमाल अब मुझे रिपोर्ट ना देने और इसे सार्वजनिक ना किए जाने में किया जा रहा है। ऐसा लगता है कि आरोप लगाने वाले को भी रिपोर्ट की कॉपी नहीं दी जाएगी।

चीफ जस्टिस पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा

सुप्रीम कोर्ट की एक पूर्व महिला कर्मचारी ने चीफ जस्टिस पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। इसकी जांच सुप्रीम कोर्ट की इन हाउस कमेटी कर रही थी। कमेटी में सुप्रीम कोर्ट केजजजस्टिस बोबडे के अलावा दो महिला जज- जस्टिस इंदु मल्होत्रा ​​और जस्टिस इंदिरा बनर्जी भी थीं। आरोप लगाने वाली महिला कमेटी के सामने पेश हुई थी, लेकिन बाद में मीडिया में बयान दिया था कि अगर उसे वकील ले जाने की इजाजत नही दी गई तो वह जांच में हिस्सा नहीं लेगी।महिला का कहना था कि मुझे यहां इंसाफ की उम्मीद कम दिखाई देती है।

जूनियर कोर्ट असिस्टेंट थीआरोप लगाने वाली महिला

सीजेआई गोगोई पर 35 साल की महिला ने यौनशोषण के आरोप लगाए थे। उसने एफिडेविट की कॉपी 22 जजों को भेजी थी। यह महिला 2018 में सीजेआई के आवास पर बतौर जूनियर कोर्ट असिस्टेंट पदस्थ थी। बाद में उसे नौकरी से हटा दिया गया।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


चीफ जस्टिस रंजन गोगोई।



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here