मोदी ने कहा- ये चौकीदार चौकन्ना है, नामदार हो या उनके राग दरबारी, कोई नहीं बचेगा

0
140





भोपाल. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश के सीधी और जबलपुरमें जनसभाएं कीं। उन्होंने कहा, ‘‘कांग्रेस गरीब और किसानों के नाम पर योजनाएं बनाती है और उसी पैसे से घोटाला करती रहती है। दिल्ली से लेकर भोपाल तक कांग्रेस में भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार है, लेकिन आपका चौकीदार चौकन्ना है। नामदार हो या उनके राग दरबारी कोई नहीं बचेगा।’’

  • मोदी ने कहा,‘‘साथियों मध्यप्रदेश के आदिवासी बच्चों के लिए, प्रसूता माताओं के लिए भारत सरकार पैसे भेजती है।यह ऐसे लोग हैं जो चौकीदार के रहते हुए भी इस पैसे की चोरी की हिम्मत कर गए। उन्होंने इस पैसे से तुगलक रोड चुनावी घोटाला कर दिया है। देश देख रहा है कि बोरे भर-भरकर नोट मिल रहे हैं।’’
  • ‘‘आपको पता है कि तुगलक रोड कहां है, यह दिल्ली में है और इसमें एक बहुत बड़े कांग्रेस नेता का घर है। यहां प्रसूता माता का पैसा चोरी कर वहां पहुंचाते थे। यही पैसे नामदार के प्रचार में लगा दिए जाते थे।’’
  • ‘‘नामदार के जो चेले-चपाटे हैं, वे मोदी को पूछते हैं तुम विरोधियों के यहां रेड क्यों करते हो? यह मोदी तो रेड नहीं करता। सवाल यह है कि इतना पैसा तुम्हारे यहां से कैसे निकला? लेकिन यह पूछ रहे हैं कि मोदी कांग्रेस के यहां क्यों रेड करवाते हैं? कानून सबके लिए समान है। अगर मोदी गलती करता है तो मोदी के घर पर भी रेड होना चाहिए।’’

मप्र-राजस्थान में सरकार आते ही पाप शुरू कर दिया- मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों को अगर गलती से भी दिल्ली में मौका मिल गया तो क्या होगा, इसका अंदाजा लगाना भी मुश्किल है। छह महीनों में जो पाप उन्होंने शुरू किया है। राजस्थान, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ में जीत के छह महीने ही हुए हैं। उन्हेंपता है कि लोकसभा चुनाव सामने हैं, लेकिन फिर भी वे नहीं सुधर रहे हैं।’’

दुनियाभर की डिक्शनरी से खोजकर गाली लाते हैं विपक्षी नेता-मोदी
मोदी ने जबलपुर में कहा, “300 सीटों पर चुनाव हो चुके हैं और जो पहले विपक्ष के नेता कह रहे थे कोई लहर नहीं है। अब वे सब घुटने टेक चुके हैं। टीवी के जमाने में सब लोग घर में बैठकर देख सकते हैं रैली, लेकिन आप लोग इतनी धूप में आए। महामिलावटी लोग, हर एक ने एक स्पेशल ब्रांच खोलकर रखी है। इसमें वह दुनियाभर की डिक्शनरी से खोजकर लाते हैं कि आज मोदी को कौन सी गाली देनी है?’

‘कांग्रेस को नोटबंदी का अभी भी दर्द’
जब हमने कार्रवाई की तो तकिए के नीचे छिपा माल और दीवारों से माल निकल रहा था। तब उन्होंने जनता को भड़काने का कोई मौका नहीं छोड़ा था। कमरे में बैठकर कहते थे अब मोदी गया। कांग्रेस को नोटबंदी पर इतना दर्द हुआ कि अभी तक रो रहे हैं। आंसू सूख नहीं रहे हैं। इसका उदाहरण मप्र में देखने को मिला। 15 साल बाद कांग्रेस की सरकार बनी, जोड़तोड़ करके। उन्होंने किसानों की कर्जमाफी की बात की, नौजवानों को रोजगार भत्ता देने की बात कही थी। लेकिन कुछ मिला क्या। नहीं मिला न।

मोदी ने कहा- बच्चों का भविष्य तय करने का चुनाव
ये सुखी, सुरक्षित भारत बनाने का चुनाव है। आपके बच्चों का भविष्य क्या हो, इसकी गारंटी लेने का चुनाव है। ये दुनिया में भारत को बेहतर स्थिति में पहुंचाने का चुनाव है। जो नौजवान इस लोकसभा चुनाव में पहली बार वोट डालेंगे, उन नौजवानों को तय करना है कि वो 21वीं सदी की मजबूत नींव अगले पांच साल में कौन रख पाएगा? ये चुनाव सामान्य नहीं है। कौन सांसद या प्रधानमंत्री हो ये सिर्फ इसका चुनाव नहीं है?

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


On Friday, Prime Minister’s direct and public meetings in Jabalpur,   Polling on April 29



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here