मेहुल भाई को बचाने का षड्यंत्र करने वालों की खुली पोल: सुरजेवाला

0
19


नयी दिल्ली। बैंक जालसाजी के आरोप मेहुल चोकसी के संदर्भ में एंटीगुआ के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन के बयान को लेकर कांग्रेस ने बृहस्पतिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला और दावा किया कि इससे उन लोगों की पोल खुल गई है जिन्होंने चोकसी को बचाने और भगाने का षड्यंत्र रचा था। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘एंटीगुआ के प्रधानमंत्री ने चोरों और पैसा लेकर भाग जाने वाले भगोड़ों को बचाने का जो षड्यंत्र भारत सरकार में किसी ऊँचे पद पर बैठा व्यक्ति कर रहा था, उसकी पोल खोल दी है।’

इसे भी पढ़ें: चिकित्सा रिपोर्ट जमा नहीं करा सकते मेहुल चौकसी, कोर्ट को बताई यह वजह

उन्होंने कहा कि एंटीगुआ के प्रधानमंत्री ने साफ तौर से कहा है कि वह चाहते हैं कि मेहुल चौकसी वापस जाए और भारत में उस पर मामला चलाया जाए, परंतु भारत के अधिकारियों ने और एजेंसियों ने गलत सूचना देकर उसके प्रत्यर्पण की प्रक्रिया को अब तक तेज नहीं किया। सुरजेवाला ने कहा कि उन्होंने ये भी कहा कि भारतीय जांच एजेंसियाँ एंटीगुआ जाकर मेहुल चौकसी से पूछताछ करने के लिए भी स्वतंत्र हैं और वह ये चाहते हैं कि उसे वापस भेजा जाए। फिर देरी किस बात की है। कई साल से फिर ‘हमारे मेहुल भाई’ जिन्हें भाजपा के नेता कहते हैं, उनको भाजपा की सरकार वापस लाकर हमारा बैंकों का पैसा क्यों नहीं वसूल रही?

इसे भी पढ़ें: मेहुल चौकसी मामले में HC के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचा केंद्र

दरअसल, एंटीगुआ और बरबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टन ब्राउन ने कहा है कि मेहुल चोकसी ‘धूर्त’ है और उसके सभी कानूनी विकल्प समाप्त हो जाने पर उसे भारत के हवाले कर दिया जाएगा। उन्होंने जोर दिया कि बैंक धोखाधड़ी के भगोड़े को वापस भेजना ‘महज कुछ समय की बात’ है। पंजाब नेशनल बैंक से 13,400 करोड़ रुपये की कथित धोखाधड़ी के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और सीबीआई को चोकसी तथा उसके भतीजे नीरव मोदी की तलाश है। 





Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here