फुटबॉल दिल्ली ने U-7, U-9 और U-11 के लिए गोल्डन लीग का दूसरा सीज़न लॉन्च किया

0
22


नई दिल्ली। फुटबॉल दिल्ली ने गोल्डन लीग के दूसरे संस्करण के लांन्च की घोषणा की है। लान्च के अवसर पर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में फुटबॉल प्रेमियों का जमावड़ा लगा। लगभग 500 फुटबाल प्रेमी ओएनजीसी और पावर फिनांस कारपोरेशन द्वारा प्रायोजित इस लीग के दूसरे संस्करण की शुरुआत के गवाह बने।

इसे भी पढ़ें: विलारियाल ने रियाल बेटिस को हराकर दर्ज की तीसरी जीत

बीते साल फुटबॉल दिल्ली ने गोल्डन लीग के पहले संस्करण का सफल आयोजन किया था। इस लीग का उद्देश्य 5 से 11 साल तक के लड़के और लड़कियों को एक बेहतरीन प्लेटफार्म मुहैया कराना है। इस साल यह लीग विस्तृत और सुधरे हुए रूप में दिखेगी क्योंकि इस साल इसमें यूनीक डाटा सिस्टम-एफडी कनेक्ट का उपयोग किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: रोनाल्डो चोटिल, यूवेंटस ने ब्रेसिया को 2-1 से हराया

फुटबॉल दिल्ली के अध्यक्ष शाजी प्रभाकरन ने कहा-यह एक महत्वाकांक्षी परियोजना है और स्टेकहोल्डर्स, स्पांसर्स तथा परिजनों के बगैर इसे आयोजित कराना सम्भव नहीं था। हमें खुश है कि बड़ी संख्या में लोग इस लीग को समर्थन देने यहां आए हैं। मैं साथ ही सहयोग और समर्थन के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण का भी धन्यवाद करना चाहूंगा, जिसने हमें इस टूर्नामेंट को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में कराने की अनुमति दी।

इसे भी पढ़ें: रोनाल्‍डो को पछाड़ लियोनेल मेसी ने जीता फीफा प्‍लेयर ऑफ द ईयर अवॉर्ड

इस अवसर पर ओएनजीसी के महाप्रबंधक (मानव संसाधन) एवं कारपोरेट स्पोटर्स विभाग के प्रमुख डाक्टर शिवेंद्र दत्त शुक्ला ने कहा- यह दिल्ली का पहला संगठन है, जो 7-9 तथा 9-11 साल के बच्चों के लिए ग्रासरूट स्तर पर खेल को प्रोत्साहित करता है। इससे इन बच्चों को न सिर्फ खेलों में बल्कि पढ़ाई में अच्छा करने का हौसला मिलेगा।

इसे भी पढ़ें: सैफ चैम्पियनशिप में जीत के साथ आगाज करेगी U-18 भारतीय फुटबॉल टीम

बीते साल गोल्डन लीग के पहले संस्कऱण में 176 टीमों के बीच कुल 751 मैच खेले गए थे। इस बार 200 से अधिक टीमों के पंजीकरण करने की उम्मीद है। इस साल 15 आयोजन स्थलों पर कुल 1200 मैचों का आयोजन होगा।लीग के मैचों का आयोजन लगातार 12 रविवारों को होगा और हर दिन 100 से 150 मैच खेले जाएंगे। लीग के दूसरे संस्करण की शुरुआत 13 अक्टूबर से होगी। अपने तरह की इस लीग में तीन अलग-अलग कटेगरी-यू-7, यू-9 औप यू-11 में टीमों हिस्सा लेंगी। इनमें लड़के और लड़िकयों की टीमें शामिल होंगी। फुटबाल में अधिक से अधिक युवा लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए लीग में उन टीमों को अधिक अंक दिए जाएंगे, जिनके पास अधिक लड़कियां होंगी।



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here