प्रदूषण कम करने के बनाया गया इलेक्ट्रिक हाईवे, इसमें केबल से कनेक्ट होकर बिजली से चलेंगे ट्रक

0
164





फ्रैंकफर्ट. जर्मनी ने गाड़ियों से फैलने वाले प्रदूषण को कम करने का नया तरीका निकाला है। पहली बार देश में 6 करोड़ डॉलर (544 करोड़ रुपए) की लागत से ई-हाईवे तैयार किया जा रहा है। सरकार ने हाल ही में फ्रैंकफर्ट एयरपोर्ट और पास ही स्थित एक इंडस्ट्रीयल पार्क के बीच ऐसे एक 10 किलोमीटर लंबे हाईवे की टेस्टिंग भी की। इसमें खास तौर पर तैयार किए गए ट्रक दौड़ाए गए, जो ट्रेन इंजनों की तरह ही सड़क के ऊपर लगी केबल से बिजली लेकर चलते हैं।

इस सिस्टम को जर्मन कंपनी सीमेंस ने विकसित किया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, यह प्रदूषण कम करने के लिए अपनी तरह का पहला टेस्ट है। ट्रकों में एक बिजली से चलने वाली मोटर लगाई गई है, जो केबलों से जुड़कर बिजली खींचती हैं। इलेक्ट्रिक केबल की ऊर्जा से ट्रक 90 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से दौड़ सकते हैं।

ऊर्जा के साथ अर्थव्यवस्था को भी फायदा पहुंचाएगा यह सिस्टम
सीमेंस का दावा है कि यह सिस्टम ईधन से चलने वाले ट्रकों के मुकाबले काफी ऊर्जा बचाता है। कंपनी के मुताबिक, हर साल 1 लाख किलोमीटर चलने पर यह सामान्य ईधन के मुकाबले ट्रांसपोर्टर के 17000 पाउंड (16 लाख रुपए) तक बचा सकता है। साथ ही कार्बन डाइऑक्साइड और नाइट्रोजन डाइऑक्साइड का उत्सर्जन कम कर सकता है।

कंपनी का कहना है कि ट्रकों को खास केबल वाले हाईवे में बिजली से चलने की सहूलियत मिलेगी। हालांकि, जहां भी हाईवे इलेक्ट्रिक नहीं होंगे वहां ट्रक सामान्य ईधन पर भी चल सकेंगे। जर्मन सरकार ने इन ट्रकों को तैयार करने में 536 करोड़ रुपए लगाए हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Germany unveils its first e-highway for trucks in test project


Germany unveils its first e-highway for trucks in test project


Germany unveils its first e-highway for trucks in test project



और पढ़ें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here