नशे से दूर रखने के लिए पापा-बेटी ने ब्रिज के नीचे जिम बनाया, यहां 500 लोग रोज बॉक्सिंग सीखते हैं

0
33





एकेटेपेक (मैक्सिको से भास्कर के लिए एल्फ्रेडो एस्ट्रेला). मैक्सिको के जाने-माने फुटबाल खिलाड़ी और शौकिया बॉक्सर मिगुएल एंजेल रामिरेज ने एकेटेपेक शहर के व्यस्ततम ब्रिज के नीचे एक जिम शुरू किया है। इसमें बॉक्सिंग रिंग भी है। इसके जरिए वह शहर के युवाओं को ड्रग्स और अपराध की दुनिया से दूर रखना चाहते हैं। मिगुएल बताते हैं कि उन्होंने मैक्सिको में अलग-अलग जगह पर करीब 12 साल तक पुनर्वास केंद्रों में 5 हजार से ज्यादा लोगों को बॉक्सिंग की ट्रेनिंग दी। मिगुएल की बेटी फर्नांडा भी उन्हें इस काम में मदद करती हैं।

मिगुएल एंजेल रामिरेज ने महसूस किया कि गुमराह हो चुके युवाओं का बड़ा हिस्सा पुनर्वास केंद्र की पहुंच से दूर है। इसके लिए उन्होंने ऐसी जगह चुनी जो अपराध के लिए बदनाम है। एकेटेपेक का सिटी ब्रिज उन्हें मुफीद लगा। जगह तय होते ही उन्होंने वहां पर बॉक्सिंग बैग लगाए। इसके साथ ही छोटी बॉक्सिंग रिंग भी तैयार की। कुछ महीनों पहले जिस जगह कचरा पड़ा रहता था, लोग ड्रग्स लेते दिखते थे। आज वहां पर युवा बॉक्सिंग की प्रैक्टिस करते नजर आते हैं। पापा-बेटी दोनों मिलकर इन्हें ट्रेनिंग देते हैं और कोशिश करते हैं कि इनका ध्यान ड्रग्स और चोरी-लूट की तरफ न जाए। जिम और ट्रेनिंग पर होने वाला खर्च मिगुएल खुद ही उठाते हैं।

मिगुएल का बेटा ड्रग्स के कारण ही फुटबॉलर बन नहीं सका
मिगुएल के मुताबिक अगर ये युवा खेल और पढ़ाई से हट गए तो फिर अपराध और नशे की ओर मुड़ जाएंगे। मिगुएल की बेटी फर्नांडा पेशेवर बॉक्सर हैं। मिगुएल का एक बेटा ड्रग्स के कारण ही फुटबॉलर नहीं बन सका। दूसरा बेटा 17 साल का है और बॉक्सिंग सीख रहा है। मिगुएल मैक्सिको की समस्या को बेहतर समझते हैं। इसके लिए उन्होंने यह पहल की। जल्द ही बेटा भी उनके अभियान में जुड़ेगा।

पापा को देख डांसिंग छोड़ बॉक्सिंग शुरू की: फर्नांडा
फर्नांडा रामिरेज परिवार की पहली लड़की हैं, जिन्होंने बॉक्सिंग सीखी। इससे पहले उनकी रुचि डांसिंग में थी। फर्नांडा बताती हैं कि पापा का समर्पण देखकर डांस का ख्याल छोड़ दिया और बॉक्सिंग शुरू कर दी। आज पापा के साथ मिलकर 500 बच्चों को ट्रेनिंग देती हूं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


एकेटेपेक का सिटी ब्रिज के नीचे बॉक्सिंग सिखाते बॉक्सर मिगुएल एंजेल रामिरेज।



और पढ़ें

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here