नवरात्रि बॉडी हीलिंग का मौका, इन 9 टिप्स से बनाएं व्रत का हेल्दी डाइट प्लान

0
18





हेल्थ डेस्क. उपवास का धार्मिक महत्व तो है ही यह शरीर की हीलिंग का भी मौका होता है। उपवास से शरीर को कुछ ब्रेक मिलता है। लेकिन डाइट का सही मैनेजमेंट न होने की वजह से हमारे शरीर को उपवास का पूरा फायदा नहीं मिल पाता। यहां ऐसी 9 टिप्स दी जा रही हैं, जिनसे आप 9 दिन के उपवास के लिए हेल्दी डाइट प्लान बना सकते हैं। न्यूट्रिशनिस्ट मंजरी चंद्रा बता रही हैं नवरात्रि में उपवास के दौरान 9 बातों का ध्यान रखकर डाइट प्लान बनाएं…

    • फैट से न बचें :उपवास में केवल फल या मिलेट्स (चौलाई, कुट्‌टू आदि) ही न खाएं। घी, मक्खन, नारियल तेल या तिल का तेल जैसे हेल्दी तेल जरूर लें। अच्छा फैट खाने से मोटे नहीं होते हैं, बल्कि लंबे समय तक ऊर्जा बनाए रखने के लिए ये बहुत जरूरी हैं। सिर्फ उबला खाना ठीक नहीं।
    • अरबी, आलू और स्वीट पोटेटो का छिलका न उतारें :आलू, अरबी, स्वीट पोटेटो जैसी जमीन के नीचे होने वाली चीजें जरूर खाएं लेकिन इनका छिलका न उतारें। जिन चीजों को बिना छिल्का उतारे खाया जा सकता है, उन्हें वैसे ही खाना चाहिए क्योंकि छिलकों में न्यूट्रिएंट्स होते हैं।
    • करोंदा है सुपरफूड :करोंदा, कोकम, अलसी, आंवला जैसी चीजों को अपने व्रत के खाने में शामिल करें। व्रत ऐसी चीजें खाने का मौका है जिन्हें आप आमतौरपर पर खाने में इस्तेमाल नहीं करते हैं।
    • चाय से भूख न मारें :खाली पेट बार-बार चाय पीना नुकसानदेह है। शरीर में पानी बनाए रखने के लिए नींबू पानी, मठा, पुदीने और दालचीनी की चाय और नारियल पानी जैसे पेय ले सकते हैं।
    • उपवास में भी समय पर खाएं :अगर व्रत में आप देर रात खाना खाते हैं तो शरीर को व्रत का फायदा नहीं मिलता। शाम को 6 से 7 के बीच खाना खा लेना चाहिए।
    • हेल्दी मिठाई चुनें :हलवा, पायसम, चौलाई के लड्डू, सिंघाड़े के आटे की बर्फी या हलवा, साबुदाने की खीर, ये सभी बहुत हेल्दी मिठाई हैं। बस सफेद शक्कर इस्तेमाल न करें। खांड या गुड़ इस्तेमाल कर सकते हैं। डायबिटिक हैं तो स्वीटनर इस्तेमाल करें।
    • चिप्स की जगह नट्स :कई लोग व्रत में स्नैक्स के लिए तरह-तरह की चिप्स और बाजार में मिलने वाले फलाहारी नमकीन खाते रहते हैं। इनकी जगह नट्स (काजू, बादाम आदि) ज्यादा फायदेमंद विकल्प हैं। इन्हें सेंके, तलें नहीं।
    • दही जरूर खाएं :व्रत में शरीर हीलिंग मोड में होता है। ऐसे में प्रोबायोटिक्स फायदेमंद होते हैं। ये आपको दही में मिल सकते हैं। इसे डाइट में जरूर शामिल करें।
    • सही साबूदाना पहचानें :उपवास में साबूदाने से कई चीजें बनाई जाती हैं। बाजार में कई तरह का साबूदाना उपलब्ध है। कई बार इसकी जगह स्टार्च भी मिल रहा होता है। सस्ते साबूदाने से बचें। खराब साबूदाना पानी में धोने पर पानी गंदा और ज्यादा चिपचिपा-सा होता है। अच्छा साबूदाना पानी में ज्यादा फूलता है।
    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      navratri 2019 diet plan what to eat in navratri and what not



      Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here