देश में डर, भय और हिंसा का माहौल बनाया जा रहा: अशोक गहलोत

0
12


रायपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि देश में डर, भय और हिंसा का माहौल बनाया जा रहा है।गहलोत ने आज छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले के गोबरा नवापारा गांव में किसान सम्मेलन को संबाधित करते हुए कहा कि यह लोकतंत्र है, लोकतंत्र में सरकारें बदलती रहती है।उन्होंने कहा कि देश में लोगों को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय जैसी एजेंसियों का भय दिखाया जा रहा है तथा निर्दोष लोगों को जेल में डाला जा रहा है, जिससे देश में डर और भय तथा हिंसा का माहौल है।गहलोत ने कहा कि आर्थिक रूप से हम लोग दिक्कत में आ गए हैं और सारे व्यापार धंधे ठप हैं। नौजवानों की नौकरी लगने की बात तो दूर की है अब लगी हुई नौकरी भी जा रही है।उन्होंने कहा कि देश में सरकारें अब वही चलेंगी जो नौजवानों का ख्याल रखेगी, क्योंकि देश में 70 फीसदी आबादी नौजवानों की है और उन्हें नौकरी चाहिए, रोजगार चाहिए।  

उन्होंने कहा कि यह सभी सरकारों का कर्तव्य है कि नौजवानों को कैसे अधिक से अधिक रोजगार के अवसर मिले। उन्होंने कहा, ‘‘आज हम उपग्रह छोड़ रहे हैं, मंगल तक जा रहे हैं, चंद्रमा में जा रहे हैं। सूचना प्रौद्योगिकी के मामले में कितनी सुविधा हो गई है। यह जो काम हुए हैं वह पिछले 70 साल में हुए हैं और यह काम पंडित नेहरू की सोच के कारण हुए हैं।’’ राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े कर दिए और नई पीढ़ी को ये बातें नहीं मालूम और इसका दुरुपयोग वे लोग कर रहे हैं जो यह कहते हैं कि 70 साल में कांग्रेस ने कुछ नहीं किया । उन्होंने कहा कि देश में इस तरह की बातें करना सत्ता पक्ष के लोगों को और प्रधानमंत्री जी को शोभा नहीं देता है। 
गहलोत ने कहा, ‘‘लोकतंत्र में सरकारें आती जाती हैं। इंदिरा गांधी महान नेता थीं। उन्होंने पाकिस्तान को दो हिस्सों में बांट दिये।पोकरण में परमाणु परीक्षण किया। गरीबी हटाओ का नारा दिया। देश को हरित क्रांति दी। इसके बावजूद एक मौका आया जब इंदिरा गांधी चुनाव हार गईं।’’ उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से ही सेना का पराक्रम लगातार रहा है, चाहे पाकिस्तान के साथ लडाइयों में हो या चीन के साथ, इसका उपयोग राजनीति के लिए नहीं करना चाहिए। गहलोत ने इस दौरान छत्तीसगढ़ सरकार की तारीफ भी की और कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ के लिए जो कार्य किया है वह देश के लिए प्रेरणादायक है। सभा के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके मंत्रिमंडल के सदस्य और अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद थे।
 





Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here