दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में पंत की जगह लेंगे साहा

0
13


 विशाखापत्तनम। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की श्रृंखला के पहले टेस्ट में खराब फार्म से जूझ रहे ऋषभ पंत की जगह रिद्धिमान साहा लेंगे। कोहली ने कहा कि बंगाल के क्रिकेटर साहा ‘दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर’ बने हुए हैं। चौंतीस साल के साहा चोट के कारण लंबे समय तक टीम से बाहर रहे और अगस्त में वेस्टइंडीज दौरे पर दो टेस्ट की श्रृंखला के साथ टीम में वापसी की। साहा को हालांकि वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलने का मौका नहीं मिला और दोनों ही मैचों में पंत ने विकेटकीपर की भूमिका निभाई।

इसे भी पढ़ें: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पंत और साहा में किसे मिल सकता है मौका ?

कोहली ने पहले टेस्ट से पूर्व कहा, ‘‘हां, साहा फिट है और खेलने को तैयार है। वह हमारे लिए श्रृंखला की शुरुआत करेंगे। उसकी विकेटकीपिंग से सभी वाकिफ हैं। उसे जब भी मौका मिला तो उसने बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन किया। यह दुर्भाग्यपूर्ण था कि चोट के कारण वह बाहर रहा। मेरे अनुसार वह दुनिया का सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर है। इन हालात में वह हमारे लिए श्रृंखला की शुरुआत कर सकता है।’’ साहा ने अपना पिछला टेस्ट जनवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। उनकी गैरमौजूदगी में पंत ने जिम्मेदारी संभाली और इंग्लैंड तथा आस्ट्रेलिया में शतक के साथ खेल के लंबे प्रारूप में टीम की पहली पसंद बन गए।
पिछले कुछ समय में हालांकि पंत को खराब शॉट चयन के कारण आलोचनाओं का सामना करना पड़ा और शायद यह भी एक कारण है कि टीम प्रबंधन ने श्रृंखला की शुरुआत साहा के साथ करने का फैसला किया। साहा ने 32 टेस्ट में 30.63 की औसत से 1164 रन बनाए हैं। कोहली ने कहा कि टीम प्रबंधन चाहता था कि साहा को टीम में वापसी करने में आसानी हो और यही कारण है कि वह वेस्टइंडीज दौरे पर नहीं खेले। उन्होंने कहा,‘‘हमने महसूस किया कि जैसे मौका मिलने पर ऋषभ ने अच्छा प्रदर्शन किया। साहा हमेशा टीम में खेलने का दावेदार था लेकिन हमने महसूस किया कि उसे तुरंत खेलने के लिए बाध्य करने से बेहतर है कि पहले वह सहज हो जाए।’’ कोहली ने कहा, ‘‘हम सभी ने महसूस किया कि उसने अभी वापसी की है और अच्छी विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी करने के बावजूद यह उचित है कि ऋषभ ने पिछले सत्र में हमारे लिए जो किया उसे देखते हुए उसे कुछ और मौके दिए जाएं।’’
 
कप्तान ने कहा कि साहा हमेशा से ही पारंपरिक प्रारूप में पहली पसंद थे। उन्होंने कहा, ‘‘टेस्ट क्रिकेट में विशेषज्ञ विकेटकीपर के रूप में हम हमेशा साहा का समर्थन करते। अतीत में दबाव के हालात में उसने हमारे लिए अच्छा प्रदर्शन किया है इसलिए उसकी वापसी सही मौका ढूंढने से जुड़ी थी।’’ कप्तान ने साथ ही स्पष्ट किया कि रविचंद्र अश्विन और रविंद्र जडेजा टीम में दो विशेषज्ञ स्पिनर होंगे जबकि हनुमा विहारी तीसरे विकल्प होंगे। ऐसे में कुलदीप यादव को अंतिम एकादश में मौका नहीं मिलेगा। टीम में अश्विन की मौजूदा भूमिका के बारे में पूछने पर कोहली ने कहा, ‘‘हां, अश्विन खेलेगा। अश्विन और जडेजा दोनों यहां खेलेंगे। हमारा मानना है कि जहां तक विदेशों में खेलने का सवाल है तो जडेजा बेहतर है और पिछले सत्र में उसने टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हालात जब भी हमें दो स्पिनरों के साथ उतरने का मौका देंगे, अश्विन हमेशा खतरा रहेगा और घरेलू हालात में अपनी बल्लेबाजी और गेंदबाजी से वह हमेशा जडेजा के साथ शुरुआत करेगा। इस बारे में हमें सोचने की अधिक जरूरत नहीं है।’’
 



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here