चीन ओपन की नाकामी को भुलाकर कोरिया ओपन में उतरेगी पीवी सिंधू

0
9


इंचियोन (कोरिया)। विश्व चैंपियन पीवी सिंधू चीन ओपन के शुरू में बाहर होने की निराशा से उबरकर मंगलवार से यहां शुरू होने वाले कोरिया ओपन सुपर 500 बैडमिंटन टूर्नामेंट से इस सत्र में बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर का खिताब जीतने के लिये अपनी कवायद शुरू करेगी। विश्व चैंपियनशिप जीतने के बाद ओलंपिक रजत पदक विजेता सिंधू पिछले सप्ताह चीन ओपन सुपर 1000 के दूसरे दौर में थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग से हार गयी थी।  कोरिया ओपन में 2017 की विजेता 26 वर्षीय भारतीय को अब इसे भुलाकर इंचियोन में 400,000 डालर इनामी टूर्नामेंट पर ध्यान देना होगा जिसमें उनका पहला मुकाबला अमेरिका की बीवेन झांग से होगा। 

 
सिंधू ने बीवेन को बासेल में विश्व चैंपियनशिप में हराया था लेकिन उन्हें चीन में जन्मी शटलर के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा। पिछले साल बीवेन ने दो बार सिंधू को हराया था। पहले दौर में जीत के बाद सिंधू को चोचुवोंग से बदला लेने का मौका मिल सकता है। खराब फार्म में चल रही साइना नेहवाल भी कोरिया ओपन में फार्म में वापसी करने की कोशिश करेगी जहां उनका पहला मुकाबला कोरिया की किम गा इयुन से होगा। साइना का किम के खिलाफ रिकार्ड 2-0 है।  
विश्व चैंपियनशिप में पदक का भारत के पुरुष वर्ग में 36 साल के इंतजार को खत्म करने वाले बी साई प्रणीत भी अपना प्रभावशाली प्रदर्शन जारी रखना चाहेंगे। वह चीन ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे थे। प्रणीत को शुरू में ही हालांकि डेनमार्क के एंडर्स एंटोनसेन की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा। पारूपल्ली कश्यप पहले दौर में क्वालीफायर से भिड़ेंगे। पुरुष युगल में सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का सामना पहले दौर में ताकेशी कामुरा और कीगो सोनोदा की चौथी वरीयता प्राप्त जापानी जोड़ी से होगा। मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी पहले दौर में क्वालीफायर्स से भिड़ेंगे। 

 



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here