किरण मजूमदार ने कहा- टैक्स दरें अब दुनिया के मुकाबले प्रतिस्पर्धी; गोयनका बोले- दिवाली जल्दी आ गई

0
27





बिजनेस डेस्क. कॉर्पोरेटटैक्स घटाने और शेयर बाजार से जुड़े वित्त मंत्री के ऐलानों का इंडस्ट्री ने स्वागत किया है। बायोकॉन की चेयरपर्सन किरण मजूमदार शॉ ने भास्कर APP से बातचीत में कहा, ‘‘इन फैसलों का कई गुना फायदा होगा। भारत में कॉर्पोरेट टैक्स की दरें अब दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले प्रतिस्पर्धी हो गई हैं। जो घरेलू कंपनियां विदेश में निवेश पर ध्यान दे रही थीं, वे अब देश में ही निवेश बढ़ाएंगी। आने वाले समय में देश की जीडीपी ग्रोथ 7% तक जा सकती है।’’ महिंद्रा एंड महिंद्रा के मैनेजिंग डायरेक्टर पवन गोयनका ने ट्वीट किया- ऐसा लगता है दिवाली जल्दी आ गई।

कंपनियों कामार्केट कैपिटलाइजेशन बढ़ेगा: शॉ
किरण मजूमदार शॉ ने कहा कि टैक्स कम लगने से कंपनियों का मुनाफा भी बढ़ेगा। वित्त मंत्री के ऐलानों का शेयर बाजारों पर तो तुरंत असर हो गया। सेंसेक्स में 2000 प्वाइंट की तेजी आई। शेयर बाजार में बढ़त से कंपनियों का मार्केट कैपिटलाइजेशन भी बढ़ेगा।

मोदी ने कहा- मेक इन इंडिया को गति मिलेगी
मोदी ने कहा- कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती का फैसला ऐतिहासिक है। इससे मेक इन इंडिया को गति मिलेगी। साथ ही दुनियाभर से निवेश आकर्षित करने में भी मदद मिलेगी। हमारे निजी क्षेत्र की प्रतिस्पर्धी क्षमता में बढ़ोतरी होगी और ज्यादा रोजगार पैदा होंगे। 130 करोड़ भारतीयों के लिए यह बेहतरीन कदम है। पिछले कुछ हफ्तों में किए गए ऐलान हमारी सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं। भारत को व्यवसाय के लिए बेहतर जगह बनाने के लिए हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। समाज के सभी वर्गों के लिए अवसर बढ़ाने के लिए सरकार कटिबद्ध है। इन तमाम उपायों से भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में मदद मिलेगी।

##

अर्थव्यवस्था को जरूरी उछाल मिलेगा- पीयूष गोयल
वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती से अर्थव्यवस्था को जरूरी उछाल मिलेगा। सरकार लगातार सुधारात्मक कदम उठा रही है और वित्त मंत्री ने आज सबसे बड़े ऐलान किए हैं।

असर सकारात्मक होगा- आरबीआई गवर्नर
आरबीआई के गवर्नर शक्तिकांत दास ने भी कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती का स्वागत किया है। दास ने कहा कि यह सरकार का साहसिक फैसला है और इसका अर्थव्यवस्था पर बहुत सकारात्मक असर पड़ेगा।

सरकार अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए प्रतिबद्ध- उदय कोटक
कोटक महिंद्रा बैंक के सीईओ उदय कोटक ने कॉर्पोरेट टैक्स घटाने को बिग बैंग रिफॉर्म बताया है। उन्होंने ट्वीट किया- इस फैसले से भारतीय कंपनियों को अमेरिका जैसे कम टैक्स वाले क्षेत्रों से प्रतिस्पर्धा करने का मौका मिलेगा। इससे संकेत मिलता है कि सरकार आर्थिक विकास को गति देने और टैक्स भरने वाली कंपनियों को सपोर्ट करने के लिए प्रतिबद्ध है।

##

कारोबारियों ने कहा- धीमी बढ़त की चिंताओं पर सर्जिकल स्ट्राइक

  • बीएसई के एमडी और सीईओ आशीष कुमार चौहान ने कहा- सरकार के फैसलों के दूरगामी परिणाम होंगे। इससे भारत में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस की धारणा को और मजबूती मिलेगी। इससे निवेशकों का भरोसा बढ़ेगा और निवेश का नया चरण शुरू होगा। शेयर बाजार की तरफ से हम वित्त मंत्री को धन्यवाद देते हैं। उनके ताजा ऐलान से भारतीय बाजार ने जबर्दस्त बढ़त हासिल की है।
  • सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मेन्युफेक्चरर्स “सियाम” के अध्यक्ष राजन वाढेरा ने कहा- नई कंपनियों के लिए कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती करके इसे 15 फीसदी पर लाने से निवेश में मदद मिलेगी। साथ ही ऑटो सेक्टर में विदेशी निवेश को बढ़ावा मिलेगा। इससे ऑटो इंडस्ट्री में मेक इन इंडिया को बड़ा फायदा मिलने की उम्मीद है।
  • सामको सिक्यूरिटीज एंड सटॉकनोट के सीईओ जिमीत मोदी ने कहा- सरकार के ताजा ऐलान ने अर्थव्यवस्था में धीमी बढ़त की चिंताओं पर सर्जिकल स्ट्राइक की है। इससे औद्योगिक घरानों के पास अतिरिक्त धन बचेगा, जो उनकी तरलता और निवेश की चिंताओं को दूर करेगा। कॉर्पोरेट टैक्स घटने से 1,45,000 करोड़ रुपए तुरंत उपलब्ध होंगे।
  • एपिक रिसर्च के मुस्तफा नदीम ने कहा, कॉर्पोरेट टैक्स घटाना बाजार के लिए बड़ी राहत है। इससे पहले भी वित्त मंत्री ने लगातार राहतकारी कदमों का ऐलान किया था। निर्यात को प्रोत्साहन और बैंकों का विलय बड़े फैसले थे। लेकिन कॉर्पोरेट टैक्स घटाना बहुत बड़ा कदम है।
  • जिओजीत फाइनेंशियल सर्विसेस के चीफ इनवेस्टमेंट स्ट्रेटेजिस्ट वीके विजयकुमार ने कहा कि कि वित्त मंत्री के ऐलान को भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए नए दौर की तरह देखा जाना चाहिए। इसके परिणाम केवल वित्तीय सुधार से आगे भी नजर आएंगे। विजयकुमार ने इसे बेहद साहसिक फैसला बताया।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


महिंद्रा एंड महिंद्रा के एमडी पवन गोयनका (बाएं) और बायोकॉन की चेयरपर्सन किरण मजूमदार शॉ।



Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here