ईरान से तेल खरीदने वाले देशों को प्रतिबंधों में छूट नहीं मिलेगी, भारत पर पड़ सकता असर

0
186





वॉशिंगटन/नई दिल्ली. अमेरिकी सरकार ने फैसला किया है कि ईरान से तेल आयात करने वाले देशों को अब प्रतिबंधों से कोई छूट नहीं दी जाएगी। मई महीने की शुुरुआत में भारत समेत 8 देशों को प्रतिबंधों में मिली छूट की मियाद खत्म हो रही है। व्हाइट हाउस सचिव सारा सैंडर्स ने बताया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने यह फैसला लिया है। इसके फैसले का मकसद ईरान का तेल आयात शून्य करना है। सूत्रों ने बताया कि भारत सरकार इस फैसले का अध्ययन कर रही है और सही वक्त आने पर इस पर कुछ कहेगी।

  1. सैंडर्स ने कहा कि दुनिया के सबसे ज्यादा ऊर्जा उत्पादक देश अमेरिका, सऊदी अरब और यूएई अपने साथियों के साथ इस बात को लेकर प्रतिबद्ध हैं कि वैश्विक तेल बाजार में पर्याप्त मात्रा में सप्लाई होती रहे।

  2. सैंडर्स ने कहा- हम इस बात को लेकर सहमत है कि ईरान का सारा तेल बाजार से खत्म होने जाने की स्थिति में पैदा होने वाली तेल की वैश्विक मांग को पूरा किया जा सके। हम ईरान पर अधिकतम आर्थिक दबाव बनाना चाहते हैं ताकि वह अमेरिका के लिए खतरा बन रही अपनी अस्थिर गतिविधियों को खत्म कर दे।

  3. व्हाइट हाउस प्रवक्त ने कहा- ट्रम्प ने इस्लामिक रेवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स को विदेशी आतंकवादी संगठन करार दिया है। यह कदम दिखाता है कि अमेरिका ईरान के आतंकवादी नेटवर्क को खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है।

  4. 2015 में ईरान के साथ हुए परमाणु समझौते से बाहर होने के बाद अमेरिका ने नवंबर 2018 में ईरान पर प्रतिबंध लगाया था। इसी महीने भारत के अलावा चीन, ग्रीस, इटली, ताईवान, जापान, तुर्की और दक्षिण कोरिया को प्रतिबंधों से छूट दी थी। छूट की यह अवधि 2 मई को खत्म हो रही है।

  5. ईराक और सऊदी अरब के बाद ईरान भारत का तीसरा सबसे बड़ा तेल निर्यातक देश है। ईरान ने भारत को अप्रैल 2017 से जनवरी 2018 के बीच 1.84 करोड़ टन क्रूड ऑयल सप्लाई किया था। भारत अपनी जरूरत का 80% तेल आयात करता है।

  6. हफ्ते के पहले दिन शेयर बाजार में तेज गिरावट आई। सेंसेक्स 495.10 अंक के नुकसान के साथ 38,645.18 पर बंद हुआ। निफ्टी की क्लोजिंग158.35 प्वाइंट नीचे 11,594.45 पर हुई। कच्चे तेल की कीमत में उछाल आने से शेयर बाजार में बिकवाली तेज हुई।

  7. ईरान से तेल आयात की छूट देने की समय सीमा और नहीं बढ़ाएगा। इस खबर से कच्चे तेल में तेजी आई। अंतरराष्ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड का रेट 3.25% बढ़कर 74.31 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      Trump decides not to grant waiver to India, 7 others importing Iranian oil



      Source link

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here